मुंबई : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (आईआईटी) बॉम्बे​ के 56वें वार्षिक दीक्षांत समारोह में हिस्सा लिया। इस दौरान उन्होंने आईआईटी छात्रों को डिग्रियां बांटी। पीएम ने समारोह को संबोधित करते हुए कहा कि आईआईटी बॉम्बे​ ने राष्ट्र निर्माण को नई दिशा दी। उन्होंने ऐलान किया कि आईआईटी को 100 करोड़ की आर्थिक मदद मिलेगी।

पीएम ने कहा कि आईआईटी का सफर 100 छात्रों से शुरू हुआ था और आज देश आईआईटी से प्रेरणा लेता है। उन्होंने कहा कि यहां के छात्र विदेश में भी कामयाब हैं। मोदी शनिवार सुबह मुंबई पहुंचे जहां एयरपोर्ट पर महाराष्ट्र के राज्यपाल विद्यासागर राव के अलावा मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने उनका स्वागत किया।

बता दें कि 1958 में स्थापित आईआईटी बॉम्बे इस साल डायमंड जुबली मना रहा है जिसमें पीएम मोदी को आमंत्रित किया गया। समारोह के बाद प्रधानमंत्री आईआईटी मुंबई में ऊर्जा भवन और सेंटर फॉर एनवायरमेंट साइंस एंड इंजीनियरिंग सेंटर का उद्घाटन करेंगे इसके बाद पीएम दिल्ली लौट जाएंगे।

पीएम मोदी अक्सर अपने कार्यक्रम 'मन की बात' पर छात्रों को संबोधित करते रहते हैं। पिछले साल भी उन्होंने आईआईटी गांधीनगर में छात्रों को संबोधित करते हुए कहा था हिंदुस्तान में आईआईटी एक ब्रान्ड बन चुका है और आने वाले वक्त में आईआईटी के कैंपसों पर चर्चा होगी साथ ही उन्होंने देश की यूनिवर्सिटीज में शिक्षा की हालत पर चिंता जताते हुए कहा था कि दुनिया की 100 टॉप यूनिवर्सिटी में भारत की कोई यूनिवर्सिटी का नाम शामिल नहीं होता है, यह कलंक मिटना चाहिए।