किसानों की कर्जमाफी और पाटीदार आरक्षण को लेकर अनशन पर बैठे पाटीदार अनामत आंदोलन समिति (पास) के नेता हार्दिक पटेल को दो दिन के बाद अस्पताल से डिस्चार्ज कर दिया गया है. शुक्रवार को हार्दिक की तबीयत खराब होने के बाद उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया था.

अस्पताल से डिस्चार्ज होने के बाद हार्दिक ने ट्वीट कर लिखा, 'अनिश्चितकालीन उपवास आंदोलन के 16वें दिन अस्पताल से छुट्टी लेकर मेरे निवास स्थान पर जा रहा हूं. किसानों की कर्ज माफी और सामाजिक न्याय के तहत आज उपवास आंदोलन का 16वें दिन पूरे प्रदेश में उपवास और जनसभा हो रही है. संपूर्ण लोक क्रांति का आह्वान हो गया है. हम कमजोर नहीं है.'

गौरतलब है कि बीते 16 दिनों से अनशन कर रहे पाटीदार नेता हार्दिक पटेल से शनिवार को कई बड़े नेताओं ने मुलाकात की. मुलाकात करने वालों में जेडीयू के पूर्व सांसद शरद यादव और DMK के वरिष्ठ नेता ए.राजा शामिल थे. मुलाकात के दौरान हार्दिक पटेल ने शरद यादव के हाथों जलग्रहण भी किया. हालांकि उनका अनशन अब भी जारी है.

गुजरात सरकार पर हमला बोलते हुए हार्दिक ने ट्वीट में आगे लिखा, 'घर पहुंचते ही फिर से मेरे निवास स्थान के बाहर हजारों की तादाद में पुलिस को तैनात कर दिया और लोगों को रोकने लगी, अगर आपने अंग्रेज हुकूमत नहीं देखी तो आइए एक बार गुजरात, हमारे निवास स्थान पर आपको वाघा बॉर्डर का भी नजारा देखने को मिलेगा. सत्ता के नशे में जनता पर अमानवीय अत्याचार है.'

पास नेता हार्दिक पटेल बीते 25 अगस्त से अपनी मांगों को लेकर अनशन पर बैठे हुए हैं. शुक्रवार को तबीयत खराब होने की वजह से हार्दिक पटेल को अस्पताल ले जाया गया. दरअसल, शुक्रवार को ही खोडलधाम ट्रस्ट के अध्यक्ष नरेश पटेल ने हार्दिक से मुलाकात की थी और उन्‍होंने पाटीदार नेता से अस्‍पताल में भर्ती होने की अपील की थी.