नई दिल्ली: सहारनपुर दंगा मामले में मुख्य आरोपी भीम आर्मी के प्रमुख चंद्रशेखर आजाद उर्फ रावण को उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने रिहा करने का फैसला किया है. सरकार की ओर से जारी विज्ञपत्ति में बताया गया है कि चंद्रशेखर उर्फ रावण को उत्तर प्रदेश सरकार ने रिहा करने का फैसला किया है. उन्हें एक नवंबर को रिहा किया जाना था.

ध्यान रहे कि भीम आर्मी प्रमुख चंद्रशेखर को 2017 के सहारनपुर दंगों में कथित तौर पर शामिल होने के लिए पहली बार 8 जून 2017 को गिरफ्तार किया गया था. 2 नवंबर 2017 को इलाहाबाद हाई कोर्ट ने उन्हें जमानत दे दी थी. हालांकि जमानत मिलने के एक ही दिन बाद, जेल से रिहा होने से पहले ही उन्हें फिर से गिरफ्तार कर लिया गया.

उनपर राष्ट्रीय सुरक्षा अधिनियम (रासुका) के तहत ये कार्रवाई की गई. रासुका राज्य सुरक्षा और लोक व्यवस्था के रखरखाव हेतु 12 महीनों तक प्रशासनिक हिरासत की इजाजत देता है. रासुका लगने के खिलाफ भीम आर्मी ने इलाहाबाद हाईकोर्ट में अपील की थी. लेकिन 27 अप्रैल 2018 को हाईकोर्ट ने आदेश रद्द करने संबंधी याचिका खारिज कर दी थी.