फानूस बनके जिसकी हिफाजत हवा करे, वो शमा क्या बुझे जिसे रोशन खुदा करे। सीनियर पत्रकार चरण सिंह चौहान और उनके परिजनों के लिए आज बहुत सब्र और इम्तहान का दिन है। पत्रकार के इकलौते बेटे हिमांशू का लीवर ट्रान्सप्लांट चल रहा है। बारह बरस के इस बच्चे को कुछ महीने पहले पीलिया हुआ। केस बिगड़ा तो चरण सिंह बेटे को लेके दिल्ली पहुंचे। जहां लीवर इतना डैमेज पाया गया कि ट्रान्सप्लांट ही इसका हल निकला। अब उसे भोपाल में रेडक्रास के सिद्धांता अस्पताल में दाखिल कराया गया है। यहां गुड़गांव के मशहूर वेदांता अस्पताल के डॉक्टरों की टीम लीवर ट्रान्सप्लांट कर रही है। हिमांशु के मामा ने लीवर डोनेट किया है। इस सर्जरी में करीब 20 लाख का खर्च आ रहा है। सीएम साब ने कुछ मदद का वादा किया है। सर्जरी में करीब 40 युनिट ब्लड लगना है। सच एक्सप्रेस के इस पत्रकार के लिए कई पत्रकार मित्र वहां पहुंचे और ब्लड डोनेट किया। सर्जरी करीब 12 घंटे चलेगी। ये काम आसान और कामयाब हो, सभी पत्रकार साथी यही दुआ कर रहे हैं।