दिल्ली: स्मार्टफोन एक ऐसा गैजेट है जो आजकल किसी के पास न हो तो जीवन अधूरा सा लगने लगता है. कारण स्मार्टफोन का यूसेज और इसकी जरूरत जो इसे हमारे जीवन में एक ऐसा स्थान दे देती है जिसे हम शायद कभी हटाना नहीं चाहते. लेकिन अब स्मार्टफोन आपके लिए खतरनाक बनता जा रहा है. भले ही हम इस बात से अनजान हो लेकिन हमारे अंदर का सिस्टम कुछ यही कह रहा है कि ज्यादा स्मार्टफोन का इस्तेमाल आपकी जान ले सकता है.

स्मार्टफोन यूसेज के कई नुकसान है जहां आपकी आंखों पर असर पड़ना, रात भर नींद न आना, गैजेट एडिक्श और दूसरी चीजें. लेकिन अब कुछ और भी सामने आ रहा है जहां ये कहा जा रहा है कि अगर आप अपने स्मार्टफोन को कान से लगाकर आधे घंटे तक अगर बात करते हैं तो 10 साल के बाद आपको ब्रेन ट्यूमर होने की आशंका दोगुनी हो जाती है. आईआईटी मुंबई के प्रोफेसर गिरीश कुमार ने हाल के अध्ययन के आधार पर यह दावा किया है. उन्होंने कहा, ‘मैंने हाल ही में देश के कई ईएनटी विशेषज्ञों से बात की है और रिपोर्ट प्रकाशित की है.

अध्ययन में इस बात का भी जिक्र किया गया कि बहरापन और ब्रेन ट्यूमर के मरीजों की संख्या बढ़ रही है. ताजा सर्वेक्षण में ज्यादातर लोगों ने माना कि देर तक मोबाइल पर बात करने से कान गरम हो जाते हैं. 20 से 30 मिनट तक मोबाइल पर बात करने से माइक्रोवेव रेडिएशन शरीर में प्रवेश करता है, जिससे ईयर लोब का खून गरम होता है. खून के तापमान में 1 डिग्री सेल्सियस की वृद्धि होती है. फोन पर आधा घंटे से ज्यादा तक लगातार बात करने से सिर दर्द की समस्या शुरू होती है. इसके बाद ब्रेन ट्यूमर के अंतिम चरण के लक्षण सामने आते हैं.’