इस साल के आखिर में विधानसभा चुनाव होने वाले हैं और राज्य की दोनों ही प्रमुख पार्टियों ने चुनावी बिगुल फूंक दिया है. सत्ताधारी बीजेपी अपने 15 साल के कामकाज के आधार पर जनता के बीच जाएगी, वहीं विपक्षी दल कांग्रेस वोटरों को रिझाने के लिए रोज नए-नए वादे कर रहे हैं.

धार जिले की मनावर सीट पर आदिवासी समाज की आबादी सबसे ज्यादा है और इसी वजह से यह सीट अनुसूचित जाति के लिए सुरक्षित है. करीब 2 लाख वोट वाली इस सीट पर कांग्रेस और बीजेपी के बीच कांटे की टक्कर रही है, फिलहाल इस सीट पर बीजेपी का कब्जा है.
2013 चुनाव के नतीजे
बीजेपी से रंजना बघेल- 55293 वोट
कांग्रेस निरंजन डाबर लोनी- 53654 वोट

2008 चुनाव के नतीजे
बीजेपी से  रंजना बघेल- 53137 वोट
कांग्रेस से गजेंद्र सिंह- 51103 वो

बता दें कि मध्यप्रदेश की ज्यादातर सीटों पर मुख्य मुकाबला बीजेपी और कांग्रेस के बीच है. लेकिन कुछ सीटों पर बीएसपी का भी प्रभाव है. यहां 2003 से बीजेपी की सरकार है और इससे पहले 10 साल तक कांग्रेस ने राज किया था. 2013 के विधानसभा चुनाव में कुल 230 विधानसभा सीटों में से बीजेपी ने 165 सीटें जीतकर सरकार बनाई थी. कांग्रेस 58 सीटों तक सिमट गई थी. जबकि बसपा ने 4 और अन्य ने 3 सीटों पर जीत हासिल की थी.