टोक्यो: कार बनाने वाली जापानी कंपनी टोयोटा ने शुक्रवार को अपनी 24 लाख से अधिक हाईब्रिड कारों को ग्राहकों से वापस मंगवाया है. टोयोटा अपनी इन हाईब्रिड कारों की तकनीकी खामी दूर करना चाहता है. इन कारों में एक ऐसी कमी है जिससे इनके एक्सीडेंट होने का खतरा है. कंपनी ने करीब महीने भर पहले ही अपनी हाइब्रिड कारों को वापस मंगाने के एक फैसले की एक और घोषणा की थी.

सितंबर में कंपनी ने दुनियाभर में अपनी 10 लाख से अधिक हाइब्रिड कारों को वापस बुलाया था. उस समय इन कारों में एक टेक्निकल फॉल्ट था जिससे कार में आग लगने का खतरा था. इस बार कंपनी ने प्रायस और ऑरिस मॉडल की हाइब्रिड कारें वापस मंगवायी हैं. इनका मेनूफेक्चर अक्टूबर 2008 से नवंबर 2014 के बीच किया गया

इस कमी से प्रभावित 10 लाख से अधिक कारें अकेले जापान में हैं. इसके अलावा 8,30,000 कारें उत्तरी अमेरिका, 2,90,000 कारें यूरोप, 3,000 कारें चीन और बाकी अन्य देशों के बाजारों में हैं. टोयोटा ने एक बयान में कहा कि वापस बुलायी गई कारों में 2014 और 2015 में पहले वापस बुलायी गई कारें भी शामिल हैं.