पंजाबी का फेमस सरसों का साग सिर्फ पंजाब ही नहीं बल्कि अन्य ऱाज्यों में भी बड़े चाव से खाया जाता है। इस टेस्टी डिश में पोषक तत्व भी भरपूर मात्रा में शामिल होते हैं जो सेहत के लिए बहुत बढ़िया माना जाता है। इसमें प्रोटीन फाइबर के अलावा इसमें  कैलोरी, फैट, कार्बोहाइड्रेट, फाइबर, शुगर, पोटेशियम, विटामिन ए, सी, डी, बी 12, मैग्नीशियम, आयरन और कैल्शियम जैसेबहुत सारे जरूरी न्यूट्रिशंस पाए जाते हैं। अपने गुणों के कारण साग का जिक्र हरी सब्जियों में सबसे पहले लिया जाता है।

113 ग्राम बने साग की कटोरी में 2g (2 ग्राम) प्रोटीन पाया जाता है। इसके अलावा इसमें 59.9 कैलोरी, 499.5mg सोडियम, 6g कार्बोहाइड्रेट, 3g शुगर, 1g फाइबर पाया जाता है साथ ही इसमें विटामिन ए, सी, डी, बी 12, मैग्नीशियम, आयरन और कैल्शियम जैसे तत्व भी भरपूर मात्रा में होते हैं।

1. आंखों की रोशनी बढ़ाए
साग को विटामिन-ए का पावरहाउस माना जाता है जो आंखों की मासंपेशियों को किसी भी तरह के नुकसान से बचाता है साथ ही आंखों की रोशनी तेज होती है।

2. कैंसर से बचाव
साग एंटीऑक्सीडेंट्स से भरपूर होता है यह शरीर को डीटॉक्सीफाई कर रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाता है। इसके सेवन से शरीर को 6 तरह (ब्लैडर, पेट, ब्रेस्ट, फेफड़े, प्रोस्टेट और ओवरी) के कैंसर से बचाया जा सकता है क्योंकि गुणों से भरपूर साग कैंसर की कोशिकाओं को बढ़ने नहीं देता।

3. दिल के लिए फायदेमंद
साग खाने से शरीर में कोलेस्ट्रॉल का स्तर घटता है और फोलेट का निर्माण अधिक होता है। इससे दिल का दौरा, हाइपरटेंशन और दिल से संबधी अन्य गंभीर बीमारियों का खतरा कम होता है।

4. मेटाबॉलिज्म बढ़ाए
सरसों के साग में फाइबर की भरपूर मात्रा होती है जो शरीर की मेटाबॉलिज्म के स्तर को बढ़ाता है। इसके सेवन से पाचन क्रिया दुरुस्त रहती है।

5. वजन घटाए
साग में फाइबर की मात्रा अधिक और कैलोरी कम होती है। इससे शरीर का मेटाबॉलिज्म ठीक रहता है और वजन घटाने में आसानी होती है।

6. मजबूत हड्डियां
साग में कैल्शियम और पोटेशियम भी भरपूर होता है जो हड्डियों के लिए लाभकारी होते है। हड्डियों के रोगों की रिकवरी के लिए साग का सेवन करना चाहिए।