नई दिल्ली : जूता-चप्पल बनाने वाली रिलैक्सो चालू वित्त वर्ष में कारोबार के करीब 25 प्रतिशत बढ़कर 2,500 करोड़ रुपये तक पहुंचने की उम्मीद कर रही है। इसके लिये कंपनी खुदरा नेटवर्क के विस्तार तथा युवा ग्राहकों को आर्किषत करने के लिये नये उत्पाद पेश करेगी।

कंपनी की चालू वित्त वर्ष में 50 दुकानें खोलने की योजना है। इसके साथ कंपनी की दुकानों की संख्या बढ़कर 350 हो जाएगी।

रिलैक्सो के सहायक उपाध्यक्ष (विपणन) राजीव भाटिया ने ‘पीटीआई- भाषा’ से कहा, ‘‘रिलैक्सो पिछले पांच साल से संचयी रूप से 20 प्रतिशत की दर से वृद्धि कर रही है। हमारा चालू वित्त वर्ष में 2,500 करोड़ रुपये के कारोबार का लक्ष्य है। हम अपना खुदरा वितरण नेटवर्क बढ़ा रहे हैं...हमारी इस साल 50 स्टोर खोलने की योजना है।’’

कंपनी का कारोबार पिछले वित्त वर्ष में 18 प्रतिशत वृद्धि के साथ 2,000 करोड़ रुपये रहा था। उन्होंने कहा कि कंपनी ने दुकानों के विस्तार के लिये फ्रेंचाइजी रास्ता भी अपनाया है। आने वाले समय में फ्रेंचाइजी के जरिए भी दुकानें खोली जाएंगी।

दिल्ली की कंपनी ने अपना ‘लोगो’ बदलकर एक नई पहचान का प्रयास किया है। इस बदलाव से उसे
भाटिया ने कहा कि कंपनी ने युवा आबादी को ध्यान में रखते हुए नये ब्रांड और उत्पाद पेश किये हैं। कंपनी के प्रमुख ब्रांडों में स्पार्क्स, फ्लाइट, बहामास तथा स्कूल मेट शामिल हैं। रिलैक्सो की नौ विनिर्माण इकाइयां हैं और 30 देशों में काम कर रही है।