दुबई: भारत के खिलाफ पिछले महीने एशिया कप 2018 में खेलने वाले नदीम अहमद सहित हॉन्गकॉन्ग के तीन खिलाड़ियों पर 2014 में कथित मैच फिक्सिंग में शामिल होने के लिए आईसीसी भ्रष्टाचार निरोधक संहिता के तहत आरोप लगाए गए हैं. तीनों खिलाड़ियों हसीब अमजद तथा नदीम और उनके भाई इरफान अहमद पर एसीयू संहिता की विभिन्न धाराओं के तहत आरोप लगाए गए हैं. ये तीनों खिलाड़ी पाकिस्तानी मूल के हैं.

इनमें बाएं हाथ के स्पिनर नदीम का नाम प्रमुख है. उसने भारत के खिलाफ 18 सितंबर को एशिया कप मैच के दौरान 10 ओवर किए थे जिनमें उन्होंने 39 रन दिए, लेकिन उन्हें विकेट नहीं मिला. इरफान और हसीब क्रमश: 2014 और 2016 में हॉन्गकॉन्ग की तरफ से खेले थे. इरफान पर मैच फिक्सिंग के लिए नौ विशिष्ट आरोप लगाए गए हैं. आईसीसी ने उसे अप्रैल 2016 से निलंबित कर रखा है. नदीम और हसीब पर आईसीसी संहिता की पांच धाराओं के अंतर्गत आरोप लगाए गए हैं.

नदीम और हसीब को आरोपों का जवाब देने के लिये दो सप्ताह का समय दिया गया है. इरफान अहमद, नदीम अहमद और हाजिब अमजद पर भ्रष्टाचार निरोधी+ नियमों के उल्लंघन के आरोप लगाए हैं. आईसीसी ने सोमवार को एक बयान जारी कर बताया कि इन तीनों खिलाड़ियों पर 19 आरोप लगे हैं.

इन सभी खिलाड़ियों को जांच पूरी न हो जाने तक अस्थायी तौर से प्रतिबंधित कर दिया गया है. इन खिलाड़ियों के पास अपने ऊपर लगे आरोपों पर पक्ष रखने के लिए आठ अक्टूबर से 14 दिन की समय दिया गया है. आईसीसी ने इस मामले पर इससे ज्यादा और कुछ भी नहीं बताया है. बता दें कि हॉन्गकॉन्ग 10 साल बाद एशिया कप में उतरा है. इससे पहले वह 2008 के एशिया कप में खेला था. तब भी हॉन्गकॉन्ग, भारत और पाकिस्तान के ही ग्रुप में था.

भारत ने एशिया कप 2018 में मंगलवार को हॉन्गकॉन्ग को 26 रन से हराया था. इस मैच में भले ही भारत ने हॉन्गकॉन्ग को मात दी हो, लेकिन उसे हराने में टीम इंडिया के खिलाड़ियों के पसीने छूट गए थे. भारत ने पहले बैटिंग करते हुए 7 विकेट पर 285 रन बनाए थे. फिर हॉन्गकॉन्ग को 8 विकेट पर 259 रन पर रोककर इस मैच में जीत हासिल की थी.