ब्यूनस आयर्स: भारत के वेटलिफ्टर जेरेमी लालरिनुंगा ने यूथ ओलंपिक में भारत को पहला गोल्ड मेडल दिलाया है. मिजोरम के जेरेमी ने 62 किलो वर्ग में पहला गोल्ड मेडल जीता है. आइजोल के 15 वर्षीय जेरेमी ने 274 किलो (124 और 150) किलो वजन उठाया. उसने विश्व युवा चैम्पियनशिप में भी सिल्वर जीता था. 

सिल्वर तुर्की के तोपटास कानेर ने 263 किलो वजन उठाकर जीता. कोलंबिया के विलार एस्टिवन जोस को ब्रॉन्ज मेडल मिला. जेरेमी ने एशियाई चैम्पियनशिप में सिल्वर (युवा) और ब्रॉन्ज (जूनियर) मेडल जीता था. 

इस पदक के बाद भारत का यूथ ओलंपिक में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन तय हो गया. भारत चार पदक पहले ही जीत चुका है. तुषार माने और मेहुली घोष ने 10 मीटर एयर राइफल में सिल्वर जीता जबकि जूडो में टी तबाबी देवी ने 44 किलो वर्ग में दूसरे स्थान पर रहकर भारत को पहला पदक दिलाया. 

भारत ने 2014 में नानजिंग युवा ओलंपिक में एक सिल्वर और एक ब्रॉन्ज पदक जीता था जबकि 2010 में सिंगापुर में छह सिल्वर और दो ब्रॉन्ज पदक जीते थे. 

वेटलिफ्टर स्नेहा सोरेन महिलाओं के 48 किलो वर्ग में पांचवें स्थान पर रही. तैराकी में श्रीहरि नटराज 100 मीटर बैकस्ट्रोक के फाइनल में छठे स्थान पर रहे. टेबल टेनिस में अर्चना कामथ और मानव ठक्कर ने अपने अपने लीग मैच जीते. कामथ ने मलेशिया के जीवन चूंग को 4.2 से और ठक्कर ने स्लोवाकिया की अलेक्जेंद्रा वोक को 4.1 से हराया. 

भारतीय हॉकी टीम ने ऑस्ट्रिया को 9.1 से शिकस्त दी. बैडमिंटन में लक्ष्य सेन ने पहले मैच में उक्रेन के डेनिलो बोस्नियुक को 23.21, 21.8 से हराया.