नई दिल्ली: ‘नवरात्रि’ पर्व की शुरुआत के बाद बुधवार को दिल्ली सर्राफा बाजार में आभूषण विक्रेताओं और फुटकर कारोबारियों की लिवाली बढ़ने से सोना 200 रुपये की तेजी के साथ 31,850 रुपये प्रति 10 ग्राम पर पहुंच गया।

हालांकि, विदेशों में कमजोरी के रुख ने लाभ को सीमित कर दिया। दूसरी ओर औद्योगिक इकाइयों तथा सिक्का निर्माताओं की मांग कमजोर पड़ने से चांदी की कीमत 50 रुपये गिरकर 39,200 रुपये प्रति किलोग्राम रह गयी।

बाजार सूत्रों ने कहा कि घरेलू हाजिर बाजार में त्यौहारी मांग शुरु होने की वजह से स्थानीय आभूषण विक्रेताओं और फुटकर कारोबारियों की लिवाली बढ़ने से सोने की कीमतों में तेजी रही। वैश्विक स्तर पर सिंगापुर में सोमवार को सोना 0.10 प्रतिशत गिरकर 1,188.90 डॉलर प्रति औंस और चांदी 0.03 प्रतिशत गिरकर 14.45 डॉलर प्रति औंस रह गयी।

स्थानीय बाजार में 99.9 प्रतिशत और 99.5 प्रतिशत शुद्धता वाले सोने के भाव 200 - 200 रुपये की तेजी के साथ क्रमश: 31,850 रुपये और 31,700 रुपये प्रति 10 ग्राम पर बंद हुए। पिछले दो कारोबारी सत्रों में इसमें 250 रुपये की हानि दर्ज हुई थी।

हालांकि, सीमित कारोबारी गतिविधियों के कारण आठ ग्राम वाली सोने की गिन्नी 24,600 रुपये पर अपरिर्वितत रही। दूसरी ओर चांदी हाजिर की कीमत 50 रुपये गिरकर 39,200 रुपये प्रति किलोग्राम और चांदी साप्ताहिक डिलीवरी की कीमत भी 85 रुपये टूटकर 38,650 रुपये प्रति किलोग्राम पर बंद हुई। चांदी सिक्का कीमत लिवाल 73 हजार रुपये और बिकवाल 74 हजार रुपये प्रति सैकड़ा पर स्थिर रही।