भारतीय सेना के लिए चीन के लाइट टैंकों के खिलाफ 'जोरावर' टैंक की तैयारी, अपनी शक्ति का परिचय देगा

Jul 8, 2024 - 15:02
 0  22
भारतीय सेना के लिए चीन के लाइट टैंकों के खिलाफ 'जोरावर' टैंक की तैयारी, अपनी शक्ति का परिचय देगा

चीन की नींद उड़ाने के लिए भारतीय सेना में जल्द ही 'जोरावर' टैंक शामिल होने वाला है। इस टैंक की खासियत यह है कि वह चाहे कितने भी मुश्किल इलाकों में चल सकता है और उसका वजन भी काफी कम है। इसे दो साल के अंदर भारत में विकसित किया गया है और अब इसे लद्दाख में चीन से जुड़े हुए बॉर्डर पर तैनात किया जाएगा।

'जोरावर' टैंक का नाम 19वीं सदी के सैन्य कमांडर जोरावर सिंह के सम्मान में रखा गया है। इसे रक्षा और अनुसंधान संगठन (डीआरडीओ) और लार्सन एंड ट्रुबो ने मिलकर विकसित किया है।

 'जोरावर' की खासियतें

'जोरावर' की सबसे बड़ी खासियत यह है कि यह काफी हल्का है और इसमें 25 टन का वजन है। इस टैंक को विमान से भी पहुंचाया जा सकता है और इसमें 750 हॉर्सपावर के दमदार इंजन से चलने वाला है।

शनिवार को गुजरात में 'जोरावर' टैंक का परीक्षण भी किया गया था, जहां इसकी खासियतों को जाना गया। इस टैंक में 105 मिमी से अधिक कैलिबर की गन लगी है, जिससे एंटी-टैंक गाइडेड मिसाइल दागी जा सकती है।

चीन के इस टैंक को टक्कर देगा 'जोरावर'

चीन के लाइट टैंक ZTQ-15 या टाइप 15 के साथ 'जोरावर' टैंक की तुलना करते हुए, इसकी मारक क्षमता और सामरिक क्षमताओं में बड़ी ताकत है। 'जोरावर' में ड्रोन के साथ बैटल मैनेजमेंट सिस्टम भी लगाया गया है, जिससे यह मुश्किल पहाड़ी इलाकों में भी ऑपरेशन कर सकता है।

What's Your Reaction?

like

dislike

love

funny

angry

sad

wow

Priyanka I am a dynamic content writer background in human story, lifestyle and journalism.