रूस दौरे पर बोले प्रधानमंत्री मोदी: भारत-रूस की रणनीतिक साझेदारी और मजबूत

Jul 8, 2024 - 12:38
 0  16
रूस दौरे पर बोले प्रधानमंत्री मोदी: भारत-रूस की रणनीतिक साझेदारी और मजबूत

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रूस के दौरे को लेकर कहा कि पिछले 10 वर्षों में भारत और रूस के बीच विशेष रणनीतिक साझेदारी मजबूत हुई है। उन्होंने कहा कि वे अपने मित्र राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के साथ द्विपक्षीय सहयोग के सभी पहलुओं की समीक्षा करने के लिए उत्सुक हैं।

दौरे से पहले पीएम मोदी का बयान

रूस और ऑस्ट्रिया के दो दिवसीय दौरे पर रवाना होने से पहले पीएम मोदी ने कहा कि भारत और रूस के बीच विशेष और विशेषाधिकार प्राप्त रणनीतिक साझेदारी ऊर्जा, सुरक्षा, व्यापार, निवेश, स्वास्थ्य, शिक्षा, संस्कृति, पर्यटन और लोगों से लोगों के संपर्क जैसे क्षेत्रों में बढ़ी है।

राष्ट्रपति पुतिन के साथ बैठक पर प्रधानमंत्री का विचार

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि वे राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के साथ द्विपक्षीय सहयोग के सभी पहलुओं की समीक्षा करने और विभिन्न क्षेत्रीय एवं वैश्विक मामलों पर दृष्टिकोण साझा करने को लेकर आशान्वित हैं। उन्होंने यह भी कहा कि उनकी यात्रा उन्हें रूस में रहने वाले जीवंत भारतीय समुदाय से मिलने का अवसर भी प्रदान करेगी।

भारत-रूस वार्षिक शिखर सम्मेलन

पीएम मोदी और राष्ट्रपति पुतिन मंगलवार को 22वें भारत-रूस वार्षिक शिखर सम्मेलन में मिलेंगे, जहां वे विभिन्न क्षेत्रों में द्विपक्षीय संबंधों को और विस्तार देने के तरीकों पर चर्चा करेंगे। रूस की यात्रा समाप्त करने के बाद प्रधानमंत्री ऑस्ट्रिया के लिए रवाना होंगे। यह पिछले 40 वर्षों में किसी भारतीय प्रधानमंत्री की पहली ऑस्ट्रिया यात्रा होगी।

ऑस्ट्रिया दौरे पर पीएम मोदी का बयान

प्रधानमंत्री मोदी ने ऑस्ट्रिया को भारत का 'दृढ़ और विश्वसनीय साझेदार' बताया और कहा कि वे राष्ट्रपति एलेक्जेंडर वान डेर बेलन और चांसलर कार्ल नेहमर से मिलने के लिए उत्सुक हैं। उन्होंने कहा कि ऑस्ट्रिया के साथ लोकतंत्र और बहुलवाद के आदर्श साझा किए जाते हैं।

ऑस्ट्रिया यात्रा की महत्वता

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि पिछले 40 वर्षों में किसी भारतीय प्रधानमंत्री की यह पहली यात्रा है और वे नवाचार, प्रौद्योगिकी और सतत विकास के नए और उभरते क्षेत्रों में साझेदारी को नई ऊंचाइयों पर ले जाने के लिए आशान्वित हैं।

भारतीय समुदाय से मुलाकात

पीएम मोदी ने बताया कि वे ऑस्ट्रिया में भारतीय समुदाय के साथ बातचीत करेंगे, जो अपने पेशेवर रूख और आचरण के लिए जाने जाते हैं। उन्होंने यह भी कहा कि वे दोनों पक्षों की कारोबारी हस्तियों के साथ विचारों के आदान-प्रदान को लेकर भी आशान्वित हैं ताकि परस्पर लाभकारी व्यापार एवं निवेश अवसरों की संभावना तलाशी जा सके।

What's Your Reaction?

like

dislike

love

funny

angry

sad

wow

Priyanka I am a dynamic content writer background in human story, lifestyle and journalism.